सुनील नरेन ने क्या सोचकर डाली थी गेंद, आखिरी गेंद पर सात रन

आईपीएल 2020 – 24 वां मैच कोलकाता नाइट राइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब को 2 रनों से हरा दिया पंजाब को मैच जीतने के लिए अंतिम गेंद पर 7 रन की जरूरत थी मैच स्कोर बराबर करने के लिए 6 रन की आवश्यकता थी लेकिन बल्लेबाजी कर रहे मैक्सबेल अंतिम गेंद पर सिर्फ चौका लगा सके छक्का नहीं लगा सके कोलकाता ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया था टीम ने 20 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 164 रन बनाए।

कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान दिनेश कार्तिक आज अलग ही अंदाज में नजर आए उन्होंने 29 गेंदों में 58 रन बना दिए वहीं शुभ्मन गिल ने 57 रन बनाए पंजाब की तरफ से हर्षदीप कौर बिश्नोई ने एक-एक विकेट झटका।

जवाब में पंजाब के ओपनिंग बल्लेबाजों ने 115 रन जोड़े कोकोनट मयंक अग्रवाल और लोकेश राहुल ने शानदार बल्लेबाजी करके 50 रनों से ज्यादा की पारी खेली लेकिन मयंक अग्रवाल के आउट हो जाने के बाद पंजाब की पारी पूरी तरीके से भटक गई राहुल तेजी से रन बनाने में नाकामयाब रहे जब वह आउट हुए तो टीम को मैच जीतने के लिए 6 गेंदों में 14 रन चाहिए थे लेकिन अंतिम ओवर सुनील नारायण ने केकेआर को डालकर जीत दिला दी ।

अंतिम गेंद के बारे में बोले सुनील-

” मैं गेंद बैट्समैन की पहुंच के बाहर डालना चाहता था या तो एकदम शरीर के जितना करीब हो सकता है एक समय के लिए लगा कि गेंद चरणों के लिए चली गई लेकिन वह चौका था (डेथ ओवरों में गेंदबाजी) पर यह गेंदबाजों के लिए आदर्श परिस्थिति नहीं थी लेकिन यह काम किसी ना किसी को तो करना ही था मेरे से जितना अच्छा हो सकता है मैं करता हूं ऐसा चीज है इसके लिए मैं हमेशा तैयार रहता हूं और यदि ऐसी परिस्थिति फिर से आता है तो टीम को फिर से 1 तरीके से जिताने की कोशिश करूंगा”

मेरी हृदय गति तेज दौड़ रही थी लेकिन मैंने सोचा मैं ऐसा ही हूं इसलिए ऐसा नहीं लग रहा था कि मैं दबाव में हूं डेथ ओवरों में बॉलिंग करना बहुत ही कठिन होता है लेकिन किसी ना किसी को तो करना ही होगा आज मैंने किया हो सकता है कल कोई और करें ।

आज का हमारा यह लेख आप सभी को कैसा लगा जरूर हमको कमेंट बॉक्स में बताएं ऐसे ही डेली अपडेट करने के लिए हमारे ब्लॉक आर्टिकल को फॉलो करें तथा हमारे में पेज को भी सब्सक्राइब करें धन्यवाद ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here